आप मुझे फॉलो कर सकते हैं

Sunday, May 10, 2015

सब मिले हुए हैं जी (अथ: श्री केजरीवाल कथा)


ये फेसबुक...ट्वीटर...गूगल प्लस वाले आपस में मिले हुए हैं जी... सारे अखबार भी आपस में मिले हुए हैं जी... जितने न्यूज़ चैनल हैं वो भी सब आपस में मिले हुए हैं जी... ये सब आपस में मिलकर हमारे खिलाफ खबरें चलाते हैं जीं... हमारे पास ना तो पुलिस है... ना ही पूर्ण राज्य का दर्जा है जी... हम तो कुछ नहीं कर सकते हैं जी... केंद्र सरकार आम आदमी का भला करने से रोक रही है जी... हम इन सारे मिले हुए पत्रकारों/लोगों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे जी... केंद्र सरकार मुझे कार्रवाई करने से नहीं रोक सकती है जी... मैं तो मुख्यमंत्री हूं जी.. ऐसे कैसे कोई मेरी ऐसी-तैसी कर सकता है जी... आखिर मेरी भी कोई प्रतिष्ठा है जी... अब मैं भला आम आदमी रह नहीं गया हूं जी... सारी मीडिया के खिलाफ कार्रवाई करूंगा जी... मेरे खिलाफ... मेरी सरकार के खिलाफ... मेरे नेताओं के खिलाफ... मेरी पार्टी के खिलाफ... जो भी जाएगा जी... उस पर हमारा डंडा पड़ेगा जी... हमने तो अपनों (योगेंद्र-प्रशांत) को भी नहीं छोड़ा जी.. फिर ये जनता किस खेत की मूली है जी... क्योंकि हमने किसानों के लिए मुआवज़ा घोषित किया है जी... तो सारे खेतों पर भी तो हमारा अधिकारी हुआ जी... खबरदार जो हमारी नापसंद की जाने वाली फसल उगायी जी... धारा 499-500 के तहत विरोधी फसल उगाने के आरोप में उखड़वा दूंगा जी...

हो चचा... उ कौउन कहावत है हो... का कहत हउव हो... हां... हमरा ठेंगा से... 

Saturday, May 09, 2015

पेट्रोल-डीज़ल से नहीं अब हवा से चलेगी गाड़ी


वो दिन दूर नहीं जब पेट्रोल-डीज़ल की बढ़ती और गिरती कीमतें आपको परेशान नहीं करेंगी... क्योंकि बेहद जल्द अब सड़कों पर हवा से चलने वाली गाड़ियां नज़र आने लगेंगी... अभी तक आपने फिल्मों में ऐसा होते देखा होगा... लेकिन अब हकीकत में ऐसा होने वाला है... जापानी ऑटोमोबाइल कंपनी टोयोटा ने मिराई नाम की कार बनायी है... जो की हवा से चलेगी... इसकी अधिकतम रफ्तार करीब 180 किलोमीटर प्रति घंटे की है... ये सिर्फ 9.6 सेकेंड्स में 0 से 60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ लेती है.... एक बार में ये करीब 500 किलोमीटर तक चल सकती है... और इसके लिए आपको इसके टैंक में हाइड्रोजन गैस भरना होगा...

हाइड्रोजन गैस ऑक्सीज़न के साथ मिलकर बिजली बनाएगी.. जिससे कार में लगा मोटर चलेगा... साथ में बैट्री भी होगी जो अतिरिक्त पैदा होने वाली बिजली को स्टोर करेगी... ताकि कार को स्टार्ट करते वक्त या फिर लाइट्स जलाते वक्त उसका इस्तेमाल किया जा सके... और सबसे हैरान करने वाली बात ये है कि... इससे प्रदूषित धुएं की बजाए.. एग्जॉस्ट के ज़रिए सिर्फ पानी निकलेगा... यानि ये वायुमंडल को ज़रा सा भी प्रदूषित नहीं करेगी... ये कार ना सिर्फ बेहद सुरक्षित है.. बल्कि आने वाले वक्त में इसे किसी चमत्कार से कम नहीं माना जाएगा...

इतनी सारी खूबियों के साथ-साथ इसमें कई खामियां भी हैं... सबसे बड़ी मुश्किल इसकी कीमत को लेकर है.. फिलहाल इस कार की कीमत करीब 62 लाख रुपए है... हाइड्रोजन भरना भी फिलहाल बेहद मुश्किल है.. क्योंकि अगर सिर्फ ब्रिटेन की बात करें तो वहां पर फिलहाल सिर्फ 12 ऐसे फिलिंग स्टेशन हैं जहां हाइड्रोजन मिलता है... हालांकि कहा जा रहा है कि 2020 तक इसकी संख्या 65 के करीब हो जाएगी.. लेकिन ये भी नाकाफी होगा... हालांकि ब्रिटेन की सरकार इसके लिए भारी-भरकम सब्सिडी दे रही है... जापान में तो इसकी शुरुआत भी हो चुकी है... सरकार की ओर से इस कार को करीब 17 लाख रुपए में उपलब्ध कराया जा रहा है...

हालांकि विशेषज्ञों का मानना है कि इन खामियों से बाहर आना ज्यादा मुश्किल नहीं है... लेकि नज़रा सोचिए... ऐसी कारों की संख्या जब बढ़ने लगेगी तो दुनिया की कितनी सारी परेशानियां दूर हो सकती हैं... जिस तेल के लिए ना जाने कितनी जंगें लड़ी जा चुकी हैं... कई देशों को बर्बाद किया जा चुका है... हज़ारों की जानें जा चुकी हैं... वो नहीं होंगी... पर्यावरण को जो नुकसान पेट्रोल और डीज़ल से चलने वाली गाड़ियां पहुंचाती हैं.. वो नहीं होगा. यानि आने वाली पीढ़ियों को हम साफ और सुरक्षित हवा का तोहफा दे पाएंगे... देशों की अर्थव्यवस्था में भारी सुधार होगा.. क्योंकि उनकी तेल पर निर्भरता खत्म हो जाएगी... 

Thursday, May 07, 2015

अरविंद केजरीवाल का 3-C वाला फॉर्मूला उन्हीं पर कैसे पड़ रहा है भारी


दिल्ली के मुख्यमंत्री माननीय ‪#‎अरविंदकेजरीवाल‬ जी ने सत्ता संभालने से पहले एक फॉर्मूला दिया था.. तीन C वाला.. माने करप्ट लोग नहीं रखेंगे.... कैरेक्टरलेस लोग नहीं रखेंगे... और क्रिमिनल नहीं रखेंगे... और फिलहाल तो इस फॉर्मूले की धज्जियां उड़ती नज़र आ रही हैं... और शायद इसीलिए केजरीवाल के सामने अब ट्रिपल टेंशन आ गई है...
‪#‎अरविंद‬ जी की पहली टेंशन हैं... पहला C यानि करप्ट लोग... उनके कानून मंत्री‪#‎जितेंद्रतोमर‬... कानून की उनकी फर्ज़ी डिग्री पर कल ‪#‎दिल्ली‬ ‪#‎हाईकोर्ट‬ में सुनवाई होनी है... और आज से ही उनके विरोधी घेरेबंदी में लग चुके हैं... नेता विपक्ष ‪#‎विजेंद्रगुप्ता‬ ने इस मामले पर एलजी नजीब जंग से मुलाकात की और नजीब जंग ने साफ कहा कि वो इस मामले में सीएम केजरीवाल को जवाब तलब करेंगे... कल हाईकोर्ट इस पर क्या कदम उठाता है... उसके बाद अरविंद जी की टेंशन और ज्यादा बढ़ जाएगी...
अरविंद जी की परेशानी यहीं पर कम नहीं होती... दूसरी टेंशन यानि दूसरा C है... कैरेक्टरलेस लोग... कवि कुमार... यानि ‪#‎कुमारविश्वास‬ जी के चरित्र का हनन हो रहा है... और कवि कुमार अमेरिका निकल लिए हैं... और इधर दिल्ली में परेशानी का ऐसा बीज बो गए हैं.. कि ये बवाल केजरीवाल जी.. और उनकी पार्टी आप के संभाले नहीं संभल रहा... महिला आयोग से कन्नी काटना कुमार विश्वास और केजरीवाल जी के लिए मुसीबत बन गया है.. अब शिकायत पुलिस कमिश्नर और गवर्नर तक जा पहुंची है...महिला आयोग ने ये भी आरोप लगाया है कि केजरीवाल काम में अड़ंगा डाल रहे हैं....
रही सही कसर तीसरे C यानि क्रमिनल लोगों ने पूरी कर दी है.. कुख्यात गैंगस्टर‪#‎नीरजबवाना‬ को शरण देने और प्लॉट में एके सैंतालिस राइफल छिपाने के आरोपी पूर्व एमएलए ‪#‎रामबीरशौकीन‬ फरार हैं... गैरज़मानती वारंट के बावजूद वो स्पेशल सेल के सामने पेश नहीं हुए हैं... और दिल्ली पुलिस ने रामबीर शौकीन को भगोड़ा घोषित करने का पूरा इंत़ाम कर लिया है... बाकायदा कोर्ट में इसके लिए अर्ज़ी दायर की जा चुकी है...पुलिस ने कमरुद्दीन नगर के उनके ऑफिस, घर और ससुराल में नोटिस भी चस्पा कर दिया है, यही नहीं कुछ और जानकारियां भी मिली हैं... आपको बता दें कि रामबीर शौकीन गैगस्टर नीरज बवाना के मामा श्री हैं...

Saturday, May 02, 2015

बुध ग्रह पर एलियन एयरक्राफ्ट


भाई बुध ग्रह वालों के लिए तो नासा का एयरक्राफ्ट एलियन ही होगा... जैसे किसी दूसरे ग्रह से आया कोई यान हमारे लिए तो एलियन ही होगा ना... नासा का स्पेसक्राफ्ट मैसेंजर बुध ग्रह की सतह से टकरा गया.. उसके टुकड़े बुध ग्रह पर बिखरे हुए हैं... कल को बुध ग्रह पर रहने वाले निकल आए तो उनके लिए स्पेसक्राफ्ट के टुकड़े तो एलियन वर्ल्ड के ही होंगे...

‪#‎NASA‬ spacecraft crashes into ‪#‎Mercury‬; ends mission
NASA's ‪#‎Messenger‬ spacecraft has crashed into the surface of Mercury, ending its historic 11-year mission that provided valuable data and thousands of images of the planet.
Mission controllers at the Johns Hopkins University Applied Physics Laboratory (APL) in Maryland, confirmed that MErcury Surface, Space ENvironment, GEochemistry, and Ranging (MESSENGER) spacecraft impacted the surface of Mercury, as predicted, on Thursday.
MESSENGER was launched on August 3, 2004, and it began orbiting Mercury on March 18, 2011. The spacecraft completed its primary science objectives by March 2012.
Because MESSENGER'S initial discoveries raised important new questions and the payload remained healthy, the mission was extended twice, allowing the spacecraft to make observations from extraordinarily low altitudes and capture images and information about the planet in unprecedented detail.
Last month - during a final short extension of the mission referred to as XM2 - the team embarked on a hover campaign that allowed the spacecraft at its closest approach to operate within a narrow band of altitudes, 5-35 kilometres above the planet's surface.
On April 28, the team successfully executed the last of seven orbit-correction manoeuvres, which kept MESSENGER aloft for the additional month, sufficiently long enough for the spacecraft's instruments to collect critical information that could shed light on Mercury's crustal magnetic anomalies and ice-filled polar craters, among other features.
With no way to increase its altitude, MESSENGER was finally unable to resist the perturbations to its orbit by the Sun's gravitational pull, and it slammed into Mercury's surface at around 8,750 miles per hour, creating a new crater up to 52 feet wide.

केजरीवाल जी की गजेंद्र किसान सहायता योजना


खबर आ रही है कि दिल्ली सरकार ने किसानों को मुआवज़ा देने के लिए अपनी योजना का नाम रख दिया है...गजेंद्र सिंह किसान सहायता योजना... ऐसी खबर मिली है... दिल्ली कैबिनेट ने इसे अपनी मंज़ूरी भी दे दी है.. हो चचा... गजेंदरवा के लटके में त इ दोसर एंगल नज़र आवत है हो... ‪#‎अरविंदकेजरीवाल‬ ‪#‎दिल्लीकेमुख्यमंत्री‬
DIRECTORATE OF INFORMATION AND PUBLICITY
GOVT. OF NCT OF DELHI
Cabinet approves distribution of compensation cheques to farmers from May 8
The farmers compensation scheme will be called Gajendra Singh Kisan Sahayta Yojana
01.05.2015
Delhi cabinet on Friday approved the distribution of cheques under Gajendra Singh Kisan Sahayta Yojana to farmers of Delhi from May 8 onwards, whose crop has been destroyed by recent unseasonal rains.
The cabinet, in its meeting chaired by the Chief Minister, Mr Arvind Kejriwal, also approved the formula for payment of compensation to the farmers.
It has been decided that based on official assessment, farmers whose complete crop has been destroyed will be paid Rs 20,000 per acre. (In cases of crop loss of 70% and above).
In cases where the crop loss will be assessed below 70%, the farmers will get a minimum compensation of Rs 14,000 per acre.
Therefore, the compensation for farmers suffering from crop loss due to unseasonal rains has been divided into two slabs of Rs 20,000 per acre and Rs 14,000 per acre.
It has also been decided that any dispute arising between government officials and farmers on the quantum of crop loss will be resolved in the respective gram Sabha nearest to the land of affected farmers.
The compensation scheme is for farmers and corporate entities owning land in Delhi will not get the benefit of this scheme.

Follow by Email