मुझसे जुड़ें

Sunday, April 26, 2015

आगरा में चर्च पर हमले का सच


खबर भी कैसे आग पकड़ती है ज़रा देखिए... आगरा में पिछले दिनों एक चर्च पर हमला हुआ.. बड़ा बवाल मचा... ज़ाहिर था आरोप भी लगने थे... देश में भगवा शासन हो गया है... जब पीएम ही कट्टर हिंदूवादी हो तो और क्या देखा जा सकता है.. लेकिन अब इस पूरे मामले में अलग ही मोड़ आ गया है... आगरा के इस चर्च में तोड़फोड़ करने वाला एक सिरफिरा आशिक निकला... उसका नाम है हैदर... बकौल आगरा पुलिस रिक्शा चालक हैदर जिस लड़की से प्रेम करता था वो घरों में चौका बर्तन साफ करने का काम करती थी... हैदर उससे शादी करना चाहता था... हैदर और उसकी प्रेमिका इसी चर्च के पास मिलते थे और लड़की चर्च में मोमबत्ती लगाने जाती थी....अचानक लड़की 10-15 दिन हैदर से मिलने नहीं आई...हैदर के पास लड़की के नाम पते की कोई जानकारी नहीं है... गम में डूबे हैदर ने शराब और चरस पीनी शुरु कर दी.. 16 अप्रैल को हैदर गम और गुस्से में चर्च में रात 2.30 बजे दीवार फांद कर घुस गया और तोड़फोड़ कर डाली...
कुल मिलाकर भेड़चाल में ना आएं... कुछ भी छापने से पहले उसकी सत्यता जांच लें... और अब सवाल ये है कि जिन लोगों ने गालियां दीं क्या वो उसी तरह सबके सामने आकर अपनी-अपनी गालियां वापस लेंगे... माफी मांगेंगे... या फिर चुपचाप मुंह छुपा कर बैठे रहेंगे बेगैरतों की तरह....